Health

जामुन खाने के 10 फायदे 

जब राह चलते ठेले वाले के पास काली रसीली जामुन दिखती हैं तो हर किसी के मुंह में पानी आ जाता हैं. जामुन खाना तो सभी को अच्छा लगता हैं लेकिन इसके सही लाभकारी उपयोग के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं. जामुन सेहत के लिए काफी अच्छी होती हैं. इसमें विटामिन बी और आयरन की मात्रा अधिक पाई जाती हैं. यह कई बिमारियों से लड़ने में मदद करती हैं. तो चलिए जाने जामुन के फायदे, उपयोग एवं गुण…

जामुन खाने के लाभ

1. खूनी दस्त: 10 ग्राम जामुन की गुठली को थोड़ा पानी डाल रगड़ ले. अब इसे छान कर सुबह शाम पिए. दस्त में खून आना बंद हो जाएगा.

2. बार बार पेशाब आना: जामुन की गुठली और बहेड़ के छिलके को समान मात्रा में लेकर पिस ले. अब इस मिश्रण को 4 ग्राम लेकर आठ दिनों तक खाए. बार बार पेशाब आने की समस्यां ख़त्म हो जाएगी.

3. बंद गला: यदि आपका गला बैठ गया है और आवाज में भरीपन लग रहा हैं तो यह उपाय अपनाए. जामुन की गुठलियों को बारीक पिस ले. अब इसमें शहद मिलाकर इसकी छोटी छोटी गोलियां बना ले. आपको रोजाना इन गोलियों को चुसना होगा जिस से आपका बंद गला खुल जाएगा.

4. दातों की बिमारी: जामुन की छाल को बारीक कर दातुन की तरह इस्तेमाल करने से दांत सम्बंधित बिमारी जैसे पायरिया ख़त्म हो जाती हैं.

5. मधुमेह (सुगर): मधुमेह के मरीजों के लिए जामुन बहुत ही काम की चीज होती हैं. इसे रोजाना खाने से मधुमेह नियंत्रण में रहता हैं.

6. माहवारी: मासिक धर्म के दौरान अधिक खून बहता हैं तो यह उपाय करे. जामुन की 10 ग्राम हरी छाल को 250 ग्राम पानी में रगड़ कर उसे रोजाना पिए.

7. त्वचा के लिए: जामुन का पेस्ट बना कर उसे स्किन पर लगाने से बहुत फायदा मिलता हैं. इसके प्रयोग से त्वचा में निखार आता हैं और चेहरे के दाग धब्बे गायब हो जाते हैं.

8. पेट रोग के लिए: भोजन के बाद नाश्ते में 100 ग्राम जामुन खाने से हर तरह की पेट सम्बंधित बीमारियाँ ख़त्म हो जाती हैं.

9. एनीमिया में: जामुन में पोटेशियम, केल्शियम और विटामिन होते हैं जो शरीर में खून की कमी दूर करते हैं. इसलिए एनीमिया के मरीजो को रोजाना जामुन खाने की सलाह दी जाती हैं.

10. गठिया रोग: जामुन की छाल को पीस कर ये पेस्ट घुटनों में लगाने से गठिया जैसे रोग में आराम मिलता हैं.

 

 

37.5